वीएलसीसी इंस्टीट्यूट ऑफ ब्यूटी एंड न्यूट्रिशन ने धूम-धाम से मनाया 17वां दीक्षांत समारोह

  |    July 13th, 2018   |   0

नई दिल्ली(संवाददाता)- वीएलसीसी इंस्टीट्यूट ऑफ ब्यूटी एंड न्यूट्रिशन, एशिया में ब्यूटी एंड वेलनेस प्रशिक्षण में अग्रणी ने आज इंडिया हेबीटेट सेंटर में अपना 17 वां दीक्षांत समारोह आयोजित किया, जहां 400 से अधिक छात्रों को उनके प्रमाण पत्र दिए गए। माननीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान; पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, कौशल विकास और उद्ययमिता, मुख्य अतिथि के तौर पर समारोह में उपस्थित थे। वीएलसीसी संस्थापक और मेंटर सुश्री वंदना लूथरा और इंडिया टीवी के चेयरमैन और एडीटर-इन-चीफ, रजत शर्मा के साथ एनएसडीसी, सीआईआई, जेएसडीएम और ओएसडीए के सीनियर अधिकारी भी उपस्थित थे।वीएलसीसी इंस्टीट्यूट ने अत्यधिक सफल पूर्व छात्रों को भी सम्मानित किया जो इंडस्ट्री में अपनी पहचान बना चुके हैं।

दीक्षांत समारोह में बोलते हुए सुश्री वंदना लूथरा, संस्थापक और मेंटर, वीएलसीसी ने कहा कि ‘‘मैं अपने छात्रों को उनके उत्कृष्ट परिणामों पर बधाई देना चाहता हूं। कौशल विकास और शिक्षा के माध्यम से भारत की प्रतिस्पर्धात्मकता और इनोवेशन को सुदृढ़ बनाना हमारे भविष्य का आधार है।

2001 में अपनी स्थापना के बाद, वीएलसीसी संस्थान भारत में व्यावसायिक शिक्षा और कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है, जहां उसने आज तक 1,00,000 से अधिक छात्रों को प्रशिक्षित किया है। सरकार ने ‘कौशल भारत’ मिशन के तहत प्रशंसनीय पहल भी शुरू की हैं, जिसने उद्योग को और अधिक संगठित और प्रशिक्षित लोगों का एक पूल बनाने में मदद की है। यह इस मिशन के तहत है कि वीएलसीसी ने अभी तक 30,000 से अधिक छात्रों को प्रशिक्षित किया है।

आज, सरकार के परिदृश्य को बदलने और सरकार से सक्रिय समर्थन के साथ, हमारा लक्ष्य है कि सालाना 30,000 छात्रों को प्रशिक्षित कर इस इंडस्ट्री में  प्रशिक्षित मानव शक्ति की मांग और आपूर्ति के बीच अंतर को पूरा किया जाए।’’वीएलसीसी इंस्टीट्यूट ऑफ ब्यूटी एंड न्यूट्रिशन में लगभग 150 प्लेसमेंट पार्टनर हैं जिनमें लॉरियल, श्वार्जकोफ, मैक और नेस्ले शामिल हैं। वीएलसीसी इंस्टीट्यूट के करीब 30 प्रतिशत छात्रों ने खुद ही अपने काम की शुरुआत की है और आज वे सफल उद्यमी बन गए हैं।