स्कूली खेल प्रतिभाओं को दिल्ली सरकार देगी वित्तीय सहायता और विशेष प्रशिक्षण

  |    December 4th, 2017   |   0

दिल्ली सरकार ने बनाई स्कूल स्तर पर खेल प्रतिभाओं के चयन और प्रोत्साहन के लिए नीति

नई दिल्ली (संवाददाता)-दिल्ली के स्कूलों की खेल प्रतिभाओं की सहायता के लिए दिल्ली सरकार ने एक नीति तैयार की है। इसके तहत उभरती खेल प्रतिभाओं को वित्तीय सहायता के साथ-साथ विशेष प्रशिक्षण भी उपलब्ध कराया जाएगा।

दिल्ली सचिवालय में सोमवार को आयोजित एक बैठक में ये नीति मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के समक्ष प्रस्तुत की गई। इस बैठक में अनेक खिलाड़ियों, प्रशिक्षकों, विशेषज्ञों और स्कूली खेल प्रतिभाओं के साथ-साथ शिक्षा एवं खेल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे। इस नीति का फायदा उन सभी स्कूली छात्र-छात्राओं को मिलेगा जिनके पास दिल्ली में पिछले तीन साल से रहने का कोई सरकारी दस्तावेज हो। इसके लिए विशेषज्ञों की एक कमेटी बनाई जाएगी जिसमें खेल जगत से जुड़े हुए कम से कम 5 सदस्य होंगे।

इस नीति के तहत 14 साल तक के स्टूडेंट्स को सालाना तौर पर 2 लाख रुपये की वित्तीय सहायता मुहैया करायी जाएगी जबकि 14 साल से ऊपर के स्टूडेंट्स को सहायता के रूप में 3 लाख रुपये सालाना दिये जाएंगे। विशेषज्ञों की कमेटी कुछ मामलों में वित्तीय सहायता बढ़ा भी सकती है। ये वित्तीय सहायता खेल प्रतिभाओं को सीधे तौर पर उपलब्ध कराई जाएगी

वित्तीय सहायता के अतिरिक्त खेल प्रतिभाओं को विशेष सहायता भी दी जाएगी। इस स्कीम के तहत चयनित प्रतिभाओं को प्रशिक्षण सहायता,चिकित्सा सहायता और बीमा सहायता भी उपलब्ध कराई जाएगी।

प्रत्येक खेल प्रतिभा को शुरू में दो साल तक के लिए वित्तीय सहायता दी जाएगी और फिर उसके प्रदर्शन की एक समीक्षा की जाएगी। इसके बाद सहायता जारी रखने पर फैसला लिया जाएगा।

इस नीति के तहत उभरती हुई खेल प्रतिभाओं को विशेष तरह की सहायता उपलब्ध कराने के लिए पूरी दिल्ली में सेंटर्स ऑफ एक्सीलेंस खोले जाएंगे जिनमें अच्छे कोचेस, फिजियोथेरैपिस्ट और न्यूट्रिशनिस्ट के साथ-साथ अनेक बेहतरीन सुविधाएं होंगी।

इस बैठक में मौजूद खिलाड़ियों ने इस कदम के लिए दिल्ली सरकार की तारीफ की। सरकार से मंजूरी के लिए बहुत जल्द नीति को कैबिनेट के सामने रखा जाएगा।