पर्यावरण संतुलन के लिए नेशनल थॉटस का सराहनीय प्रयास, हस्तासाल गांव के स्कूल से शुरु किया पौधारोपण अभियान

  |    April 22nd, 2018   |   0

अधिक से अधिक पेङ लगाओं प्रकृति का ऋण चुकाओ : डॉ.अशोक कुमार ठाकुर

नई दिल्ली(राजेश शर्मा)- हस्तसाल गाँव के सर्वोदय बाल विद्यालय में नेशनल थॉट्स द्वारा पौधारोपण समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें दिल्ली जोन-18 के उप-शिक्षा निदेशक वीरेन्द्र सिंह व प्रसार ग्रुप के चेयरमैन वेदप्रकाश गुप्ता मुख्य अतिथि रहें। वहीं इस मौके पर विद्यालय के प्रधानाचार्य मदनलाल गंगवार व उप-प्रधानाचार्य मदन मोहन गौड़, नरेश कुमार, लक्ष्मीनारायण जोशी, मीनाक्षी श्रीवास्तव व मुनि इंटरनेशनल स्कूल के संस्थापक डॉ. अशोक कुमार ठाकुर,  शिक्षक रामनारायण सैनी, मनीष कुमार तिवारी मौजूद रहे।

इस अवसर पर पर्यावरण संरक्षण पर विशेष जोर देते हुए प्रसार ग्रुप के चैयरमैन वेदप्रकाश गुप्ता ने अपने वक्तब्य में कहा कि वृक्ष ज्यादा बच्चे कम  बढ़ेगा भारत बढ़ेंगे हम” से ही भारत का विकास एंवम पर्यावरण में संतुलन बना रहेगा।

श्री गुप्ता ने विश्व में बढ़ते पर्यावरण की समस्या पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि अगर वृक्ष होंगे तो ही आने वाला कल होगा।नेशनल थॉट्स ने वृक्षारोपण को बढ़ावा देने के लिए इस प्रकार के अभियान की शुरूआत की हैं।श्री गुप्ता ने बताया कि इस अभियान में अधिक से अधिक लोगों को जोङने के लिए उनके नाम से एक पौधा लगाया जायेगा। आगामी कार्यक्रमों में आने वाले अतिथियों को पौधा दे कर सम्मानित किया जाएगा। श्री गुप्ता ने उपस्थित लोगों व छात्रों से अपील की कि वो इस मुहिम से जुड़कर पर्यावरण बचाने में नेशनल थॉट्स का साथ दे।

जिला उप-शिक्षा अधिकारी विरेन्द्र सिंह ने अपने विचार प्रकट करते हुए कहा कि दुनिया के सभी देश ग्लोबल वर्मिंग जैसी समस्याओं से जूझ रहे हैं, यही कारण है कि आज  संसार में प्राणी व वनस्पति जगत के बीच संतुलन बिगड़ा हुआ है। जिसके लिए हमारी बढ़ती आबादी जिम्मेदार है। पर्यावरण को संतुलित करने के लिए हमें अपने क्षेत्र में अधिक से अधिक पौधे लगाकर उनकी रक्षा करने का संकल्प लेना चाहिए। नेशनल थॉट्स द्वारा शुरू किया गया पौधारोपण अभियान निरंतर चलता रहना चाहिे।

विद्यालय प्रचार्य मदन लाल गंगवार ने बच्चों को पर्यावरण का महत्व बताते हुए कहा कि वृक्ष हमारे जीवन की मूलभूत आवश्यकता है। जिसके अभाव में मानव का संपूर्ण विकास रुक सकता है, और वह कई बिमारयों से ग्रस्त हो जाते हैं, पर इसके बावजूद भी हम पार्यावरण के प्रति सचेत नहीं रहते, जो हमारी बहुत बड़ी भूल है।उन्होने छात्रों से कहा कि प्रत्येक छात्र अपने जन्मदिन पर एक पेड़ अवश्य लगाए।ताकि पर्यावरण संतुलित रह सके।

मुनि इंटरनेशनल स्कूल के संस्थापक डॉ. अशोक कुमार ठाकुर ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि मनुष्य जन्म से मृत्यु तक प्रकृति पर आश्रित है, आजीवन प्रकृति से कुछ न कुछ लेता ही रहता है। प्रकृति के इस ऋण को चुकाने के लिए हमें जीवन में अधिक से अधिक पौधे लगाकर पर्यावरण को संतुलित करने में योगदान देना चाहिए।

पौधा रोपण समारोह के दौरान छात्रों ने मानव जीवन में वृक्षों का महत्व बताते हुए दो लघु नाटिका प्रस्तुत कर सबको पर्यवारण संरक्षण के लिए प्रेरित किया। इस दौरान मंच का संचालन विद्यालय के शिक्षक मदनलाल बैरवा ने किया।