प्याज की बढ़ी कीमतों के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा के नेतृत्व में केजरीवाल आवास पर प्रदर्शन

  |    December 4th, 2019   |   0

72 घंटे में प्याज की कीमतें कम नही हुई तो केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान का घेराव होगा- मुकेश शर्मा

नई दिल्ली(संवाददाता)- मोदी सरकार व आप पार्टी की नूरा कुश्ती के कारण राजधानी में प्याज की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ गुस्साई महिलाओं ने प्याज की मालाऐं पहनकर भारी संख्या में आज मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के निवास पर जबरदस्त प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों की अगुवाई दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सुभाष चौपडा व मुख्य प्रवक्ता व वरिष्ठ नेता मुकेश शर्मा सहित प्रदर्शनकारी महिलाओं को पुलिस ने उस वक्त गिरफतार कर लिया जब महिला प्रदर्शनकारियों ने सड़क के बीच बैठकर चक्का जाम कर दिया।

महिला कांग्रेस द्वारा आयोजित इस प्रदर्शन में शामिल महिलाऐं ‘‘जमाखोरों पर कसों लगाम, सस्ते करो प्याज के दाम’’,केजरीवाल शर्म करो, प्याज के दाम कम करो’’, 100 रुपये किलो प्याज, मोदी केजरीवाल का अंधाराज, ‘‘मोदी-केजरीवाल की छूट, जमाखोरों की प्याज पे लूट’’ आदि नारे लगाती हुई मुख्यमंत्री आवास की ओर बढ़ रही थी, उतेजित महिलाओं और पुलिस के बीच जबरदस्त झडपें हुई। उसके बाद श्री सुभाष चोपड़ा व श्री मुकेश शर्मा महिलाओं के साथ सड़क पर बैठ गए। मौके पर पहुॅचे भारी पुलिस बल ने सभी को गिरफतार कर लिया व दोनो नेताओं को पुलिस वाहन में ले जाया गया। प्रदर्शनकारी आईपी कॉलेज पर एकत्रित हुए थे जहां काफी समय तक जाम रहा।

प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए श्री चोपड़ा ने कहा कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार जमाखोरो से मिली हुई हैं जिसके चलते प्याज के दाम बढ़े है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकारी गोदामों में 32 हजार टन प्याज सढ़ रहा है और जनता प्याज के लिए तरस रही है। श्री चोपडा ने कहा कि मामला यहां तक नही है कि सच यह है कि दिल्ली में खाने पीने की चीजों के दाम तेजी से बढ़ रहे है। वहीं दूसरी ओर भाजपा व आप पार्टी की दोनो सरकारें केवल बयानबाजी में लगी है। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान को आडे़ हाथों लेते हुए कहा कि उनकी भी मिलीभगत जमाखोरों के साथ है। उन्होंने आज फिर दोहराया कि मोदी सरकार सभी मोर्चो पर विफल रही है।

सुभाष चोपड़ा व मुकेश शर्मा ने दोनो सरकारों पर तंज कसते हुए कहा कि गरीब आदमी आज सब्जी खाना तो दूर की बात है, सूखी रोटी और चटनी के लिए भी तरस रहा है। उन्होंने पूछा कि लहसन का भाव 300 रुपये होने के पीछे क्या कारण है। इससे साफ पता चलता है कि दोनो सरकारें गरीब आदमी की दुश्मन है।
मुकेश शर्मा ने इस मौके पर प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार का सस्ता प्याज बेचने का ढकौसला कुछ लोगों को फायदा पहुॅचाने के लिए किया गया था। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि 72 घंटे में प्याज के दाम कम नही हुए तो प्रदेश कांग्रेस केन्द्रीय खाद्य आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान का घेराव करेगी।

गिरफतारी देने वालों में सुभाष चौपडा व मुख्य प्रवक्ता व वरिष्ठ नेता मुकेश शर्मा, जितेन्द्र कोचर जीतू के साथ महिला नेता पूर्व विधायक दर्शना रामकुमार, निगम पार्षद रिकू, अमरलता सांगवान, गुड्डी देवी, पूजा बाहरी, अकांक्षा ओला इंदू, श्रीमती पुष्पा सिंह, प्रियंका सिंह, कमलेश चौधरी, प्रिया गुलाटी, आशा गांधी, रितू सिंह चौहान, निर्मला खत्री शामिल थी।