प्रो.कबड्डी सीज़न-7 में हरियाणा स्टीलर्स ने बंगाल वॉरियर्स को 36-33 से हराया

  |    August 26th, 2019   |   0

नई दिल्ली(खेल डेस्क)- सोमवार को दिल्ली के त्यागराज स्पोर्स्ट कॉम्पेलक्स में खेले गए वीवो प्रो कबड्डी सीज़न-7 के 60वें मुक़ाबले में हरियाणा स्टीलर्स ने बंगाल वॉरियर्स को 36-33 से शिकस्त दी। इस तरह से हरियाणा ने बंगाल के ख़िलाफ़ अनबिटेन रिकॉर्ड को 3-0 कर दिया। इस मैच के हीरो रहे विकास कंडोला (11 रेड प्वाइंट्स), हरियाणा के स्टार रेडर ने इस सीज़न का अपना चौथा सुपर-10 पूरा कर लिया। विकास का बख़ूबी साथ निभाया विनय ने जिन्होंने 9 रेड प्वाइंट्स लिए जबकि डिफ़ेंस में धर्मराज के नाम 4 टैकल प्वाइंट्स रहे।

बंगाल के कप्तान मनिंदर सिंह ने शानदार रेडिंग करते हुए अपना चौथा सुपर-10 (15 रेड प्वाइंट्स) हासिल किया और वीवो प्रो कबड्डी में परदीप नरवाल के बाद सबसे तेज़ 600 रेड प्वाइंट्स लेने वाले खिलाड़ी भी बन गए। परदीप ने 600 रेड प्वाइंट्स 63 मैचों में पूरा किया था जबकि मनिंदर ने यहां तक पहुंचने के लिए 69 मैच खेले। लेकिन फिर भी वह टीम को जीत दिलाने में और हरियाणा के ख़िलाफ़ जीत का मंत्र ढूंढने में नाकाम रहे। बंगाल की ओर से के प्रपजंन (7 रेड प्वाइंट्स) और जीवा (3 टैकल प्वाइंट्स) ने भी बेहतर प्रदर्शन किया।

पहले हाफ़ की शुरुआत रोमांचक रही थी जब दोनों ही टीमों की तरफ़ से सुपर रेड देखने को मिली, पहले हरियाणा की तरफ़ से विनय ने सुपर रेड लगाई और तीन शिकार किए थे। कुछ ही देर के बाद बंगाल की ओर से के प्रपंजन ने भी सुपर रेड लगाई और उन्होंने 4 खिलाड़ियों का शिकार करते हुए हरियाणा को ऑल आउट के क़रीब ला दिया था। 10वें मिनट में हरियाणा को ऑल आउट करते हुए बंगाल ने 14-10 की बढ़त बना ली थी, हालांकि इस दौरान दोनों ही टीमों के डिफ़ेंडर ने जमकर असफल टैकल किए थे और मुक़ाबला पूरी तरह से रेडर्स का हो गया था। बंगाल के कप्तान मनिंदर सिंह ने कमाल की रेड करते हुए पहले हाफ़ में ही सुपर-10 के क़रीब आ गए थे, मनिंदर ने वीवो प्रो कबड्डी में 600 रेड प्वाइंट्स भी हासिल कर लिया था। लेकिन इसके बाद हरियाणा के स्टार रेडर विकास कंडोला ने हरियाणा को मैच में न सिर्फ़ वापस लाया बल्कि हाफ़ टाइम तक बंगाल वॉरियर्स पर हरियाणा ने 18-17 की बढ़त भी बना ली थी।

दूसरे हाफ़ में तुरंत ही हरियाणा ने बंगाल वॉरियर्स को ऑलआउट करते हुए इस बढ़त को 22-18 तक पहुंचा दिया था और विकास कंडोला ने प्रो कबड्डी में अपने 300 रेड प्वाइंट्स भी पूरे कर लिए थे। अब मुक़ाबला मानो मनिंदर बनाम विकास हो गया था, क्योंकि दोनों ही टीमों का डिफ़ेंस आज रंग में नहीं थे, मैच बेहद रोमांचक होता जा रहा था और 35वें मिनट में हरियाणा की बढ़त अब सिर्फ़ 2 अंक की रह गई थी। आख़िरी पांच मिनट में तीनों ही नतीजे आ सकते थे, जीत बंगाल की भी हो सकती थी, जीत हरियाणा की भी संभव थी और साथ ही साथ टाई से भी इंकार नहीं किया जा सकता था। हरियाणा ने मैच में पकड़ तब और मज़बूत की जब अनुभवी धर्मराज चेरालाथन ने मनिंदर का सुपर टैकल किया और फिर विकास ने इस बढ़त को अपनी रेड में आगे बढ़ाते हुए 33-29 कर दिया था और अब 3 मिनट के क़रीब का समय बचा था। और मैच ख़त्म होते ही हरियाणा ने 3 अंक से मैच जीत लिया।

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में हरियाणा स्टीलर्स की बंगाल वॉरियर्स पर ये लगातार तीसरी जीत थी, इस जीत के साथ हरियाणा अंक तालिका में पांचवें पायदान पर आ गई है, उसके अब 10 मैचों में 31 अंक हो गए हैं। जबकि बंगाल वॉरियर्स इस हार के बाद भी 10 मैचों में 34 अंक के साथ तीसरे नंबर पर ही बने हुए हैं।

वीवो प्रो कबड्डी में मंगलवार यानी 26 अगस्त को रेस्ट डे है और फिर बुधवार को त्यागराज स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में दो मैच खेले जाएंगे।  पहले मैच में गुजरात फ़ॉर्च्यून जाएंट्स के सामने हरिया स्टीलर्स होगी, जबकि दूसरे मुक़ाबले में मेज़बान दबंग दिल्ली को यू मुम्बा देंगे चुनौती।