जूनियर महिला मुक्केबाज़ी चैम्पीयन्शिप में चमकीं हरियाणा की बेटियां

  |    November 10th, 2017   |   0

रोहतक(संवाददाता)-  जूनियर महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में हरियाणा की बेटियों ने अपना दबदबा बनाया। भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) की राष्ट्रीय मुक्केबाजी अकादमी में आयोजित इस टूर्नामेंट में हरियाणा की 10 महिला मुक्केबाजों ने सात स्वर्ण, दो रजत और एक कांस्य पदक जीता, वहीं पंजाब की बेटियों ने तीन स्वर्ण और एक कांस्य पदक पर कब्जा किया।

हरियाणा के लिए 48 किलोग्राम वर्ग में संगीता ने झारखंड की नेहा तेन तुलिया को मात देकर सोना जीता। इसके बाद, मीनाक्षी 50 किलोग्राम वर्ग में राजस्थान आर्शी खानुम को, 52 किलोग्राम में पूनम ने मणिपुर की एन. बेबी रोसिजाना चानु को हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

मणिपुर की मुक्केबाज सनातोई हेमान ने योगिता को 54 किलोग्राम वर्ग के फाइनल में मात देकर स्वर्ण पदक जीता। हालांकि, योगिता रजत पदक हासिल करने में सफल रहीं।

हरियाणा के लिए पांचवां स्वर्ण पदक 63 किलोग्राम वर्ग में विनका ने जीता। उन्होंने फाइनल मैच में केरल की गीता साजी को हराया। 70 किलोग्राम वर्ग में राज साहिबा ने मणिपुर की सनामा चानु को हराकर और सुषमा ने 80 किलोग्राम वर्ग में राजस्थान की चंदाना चौधरी को हराकर स्वर्ण जीता।

इस बीच, प्रियंका को 57 किलोग्राम वर्ग के फाइनल में उत्तर प्रदेश की प्रिया से मात खाकर रजत पदक से संतोष करना पड़ा। याशी शम्मा ने इसी वर्ग में कांस्य पदक पर कब्जा जमाया।

पंजाब के लिए इस टूर्नामेंट में एकता सरोज (46 किलोग्राम), दिक्षा राजपूत (75 किलोग्राम वर्ग) और कमलप्रीत कौर (80-प्लस किलोग्राम वर्ग) ने सोना जीता।