कबड्डी व कुश्ती जैसे खेलों को भी बढावा देगा इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन : महापात्रा

  |    June 7th, 2018   |   0

ज़मीनी स्तर पर खेल क्रांति के लिए कदम बढ़ाएगा इंडियन ऑयल

मेगा ’स्पोर्ट्स कॉनक्लेव 2018’ में नई घोषणाओं के साथ सम्मानित हुए खिलाङी   

नई दिल्ली(आर.के. शर्मा)- भारत में सार्वजनिक क्षेत्र की शीर्ष कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने आज नई दिल्ली में एक दिवसीय ’स्पोर्ट्स कॉनक्लेव 2018’ का आयोजन किया। इस में उन खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया जो अपने शुरुआती दिनों से कंपनी से जुड़े हुए थे और जिन्होंने खेल के क्षेत्र में अपनी विशिष्ट पहचान कायम की है। इस मौके पर इंडियन ऑयल ने देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए नई पहलों की भी घोषणा की।इस कॉनक्लेव में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन का हिस्सा रहे 60 से अधिक खिलाड़ियों ने उपस्थिति दर्ज कराई इनमें  मुख्यतः मोनिका बत्रा, रोहन बोपन्ना, पी कश्यप, ए शरद कमल, आदित्य तारे, रविकांत शुक्ला, अपर्णा बालन, एन. सिक्की रेड्डी, एस आर अरुण विष्णु, चंद्रोदय एन सिंह आदि।

कॉनक्लेव के दौरान इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के निदेशक (मानव संसाधन) रंजन के महापात्रा ने कंपनी की खेल नीति का ब्यौरा पेश किया और बताया कि देश में खेलों को सहयोग देने के लिए कंपनी की भावी योजनाएं क्या हैं।

इस अवसर पर श्री महापात्रा ने कहा,’’इंडियन ऑयल के लिए खेल महज़ ब्रांड इक्विटी निर्मित करने का जरिया नहीं है बल्कि यह एक महत्वपूर्ण साधन है जिसके जरिए कॉर्पोरेशंस तथा राष्ट्र के नेताओं का निर्माण होता है। खेल इंडियन ऑयल के मूल फलसफे का अभिन्न हिस्सा है और हम तीन दशकों से खिलाड़ियों को सहयोग कर रहे हैं। अभी हम जिन दस खेलों में सहयोग दे रहे हैं उनके अलाव अब हम वॉलीबॉल, बास्केटबॉल, तीरंदाज़ी, कुश्ती व कबड्डी को मदद देने की योजना बना रहे हैं। उभरते खिलाड़ियों को मौके देने के मंत्र के साथ-साथ हम उनके लिए प्रशिक्षण और राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय खेल आयोजनों में हिस्सा लेने को सुगम बनाते रहेंगे जिससे कि वे देश के लिए और कॉर्पोरेशन के लिए भी सम्मान अर्जित कर के लाएं।’’

खेल, इंडियन ऑयल की सामाजिक प्रतिबद्धताओं का अहम हिस्सा हैं और हमारी कोशिश है कि ज़मीनी स्तर पर खेल क्रांति लाई जाए। हमारी कॉर्पोरेशन ग्रामीण इलाकों में खेलों को बढ़ावा देने में सक्रियता से जुटी है और हमारी योजना सरकारी स्कूलों में कोचिंग सुविधाएं व किट्स मुहैया कराने की है। इंडियन ऑयल का लक्ष्य है कि पूर्व खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कोचिंग देकर युवा खिलाड़ियों को तराशें ताकि वे देश के भावी सितारे बनें।

इंडियन ऑयल समय के साथ-साथ निरंतर मजबूत बन कर उभरी है, इसके सितारों ने देश को और कॉर्पोरेशन को भी, गर्व से अभिभूत कर दिया है। यह स्पोर्ट्स कॉनक्लेव 2018 इन्हीं अद्वितीय खिलाड़ियों का उत्सव है। खेलों में असाधारण प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को इंडियन ऑयल के कॉर्पारेशन के वरिष्ठ प्रबंधन द्वारा सम्मानित भी किया गया।