गुरु मुन्नी अखाडा आरामबाग में 26 मई को होगा स्वर्गीय चौधरी रामकिशन टाक समृति इनामी दंगल

  |    May 24th, 2019   |   0

नई दिल्ली (संवाददाता)-दिल्ली रेसलिंग एसोसिएशन (इंडियन स्टाइल) के तत्वाधान में गुरु मुन्नी अखाडा आरामबाग में 26 मई को स्वर्गीय चौधरी रामकिशन टाक समृति इनामी दंगल का आयोजन किया जाएगा। दिल्ली पहाड़गंज निवासी स्वर्गीय चौधरी रामकिशन टाक आजीवन कुश्ती प्रेमी व समाज सेवी रहे। उनके जैसे व्यक्तित्व के धनी विरले ही लोग इस संसार में जन्म लेते हैं। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया में मैनेजर के पद पर कार्य करते हुए बतौर जी.एम. पद से सेवानिवृत्त हुए। रामकिशन टाक अपने जीवन में वे हमेशा सामाजिक सरकारों से सेवा कार्यों से जुड़े रहे। वे चौधरी वाल्मीकि सरपंच कमिटी के जनरल सेक्रेटरी तथा वाल्मीकि जन्मोत्सव कमिटी के अध्यक्ष भी रहे। उन्हें वाल्मीकि रत्न खिताब से भी नवाजा गया।

बीस वर्ष तक उन्होंने दिल्ली रेसलिंग एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी का पदभार भी बखूबी संभाला। पिछले 15 सालों से वे दिल्ली कुश्ती संघ द्वारा करवाए जा रहे दंगलों की रूपरेखा व कुशल प्रबंधन का कार्य बतौर जनरल सेक्रेटरी निभाते रहे। उनके इन्ही कुशल प्रबंधन के परिणामस्वरूप ही दिल्ली की टीम वर्ष 2014 में बहादुरगढ़ में चैंपियन बन कर लौटी।

कुश्ती से उनका गहरा प्रेम था, जिसके लिए वे हमेशा समय निकाल ही लिया करते। देश भर के कुश्ती दंगलों में वे शरीक होकर अपना अमूल्य योगदान देते। दिल्ली की टीम को कुश्ती प्रतियोगिताओं में वे ले जाया करते,प्रतिभाओं को तो दूर से ही पहचान लेना उनका एक सद्गुण था। और उनकी हर संभव मदद के लिए वे सदा तत्पर रहते। उनके इन्ही सद्गुणों के कारण कुश्ती समाज में उन्हें सब बहुत मान सम्मान और आदर देते थे।  उनके परलोक गमन से कुश्ती जगत को एक भारी क्षति का सामना करना पड़ा हैं।  65 वर्ष की अल्पायु में ही उनका इस तरह चले जाना बहुत खल रहा है , लेकिन ऊपर वाले की शायद यही रजा रही होगी, उनके आगे किसकी चली हैं। उनके पीछे उनकी श्रीमती और तीन संतान, दो बेटे और एक बेटी हैं। परमपिता परमात्मा से प्रार्थना हैं की उन्हें इस दुःख को सहने की हिम्मत दे।

स्वर्गीय चौधरी रामकिशन टाक जी की याद में जो विशाल दंगल हो रहा हैं वह उनके सुपुत्रों चौधरी अमन टाक व चौधरी पवन टाक द्वारा ही करवाया जा रहा हैं।