डूसू चुनाव से पूर्व एबीवीपी ने किया समग्र विकास के लिए 5-पी मॉडल आधारित घोषणा पत्र जारी

  |    September 7th, 2019   |   0

नशामुक्त कैंपस, दिव्यांग छात्रों के लिए सुविधाओं के लिए करेगे अधिक प्रयास

नई दिल्ली (संवाददाता)-डीयू के समग्र विकास के लिए 5-पी मॉडल पर काम करेगा अभाविप नीत डूसू, महिलाओं के लिए विशेष घोषणापत्र जारी।

डूसू चुनाव से पूर्व एबीवीपी ने किया 5-पी मॉडल आधारित घोषणा पत्र जारी

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव के संदर्भ में प्रेस वार्ता आयोजित करके घोषणा पत्र जारी किया है, घोषणा पत्र में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव जीतने पर डीयू के समग्र विकास के लिए 5-पी मॉडल (परिसर, पाठ्यक्रम, प्रवेश, परीक्षा, परिणाम) दिया है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने दिल्ली विश्वविद्यालय के 2022 में शताब्दी वर्ष पूर्ण होने के पूर्व डीयू को सर्वश्रेष्ठ संस्थान का दर्जा मिल सके  इसलिए जिम्मेदार छात्र नेतृत्व चुनने का आग्रह डीयू के छात्रों से किया। अभाविप के 5 पी मॉडल में परिसर यानी कैंपस में सुधार पर प्रेस वार्ता में अभाविप की राष्ट्रीय मीडिया संयोजक मोनिका चौधरी ने कहा कि , ” छात्रसंघ में आने पर हम कैंपस को बेहतर करने पर सबसे पहले काम करेंगे। हम बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर , लाईब्रेरी , वैज्ञानिक शोधों को बढ़ावा देने के लिए अतिआधुनिक प्रयोगशालाएं , नशामुक्त कैंपस , दिव्यांग छात्रों के लिए सुविधाजनक कैंपस आदि पर काम करेंगे। “

अभाविप दिल्ली के प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ यादव ने 5-पी मॉडल के अन्तर्गत 4 प्रमुख बिंदुओं पाठ्यक्रम, प्रवेश, परीक्षा और परिणाम ठीक करने के संबंध में कहा कि ,” डीयू में हम पाठ्यक्रम सुधार के सन्दर्भ में 3 आर (रिव्यू , रेशनल डिबेट और रिप्रजेंट ) सम्मिलित करने की मांग करेंगे । छात्रों के एकडेमिक काउंसिल में प्रतिनिधित्व , प्लेसमेंट बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास ,  क्लासेज हिंदी माध्यम में करने , एनएसएस  ,योग व एनसीसी को इलेक्टिव सब्जेक्ट के रूप में लागू करने , वन कोर्स वन फीस , एडमिशन प्रक्रिया स्टूडेंट फ्रेंडली बनाने , गरीब छात्रों को फीस में कुछ राहत देने , ईसीए तथा स्पोर्ट्स कोटा से होने वाले एडमिशन के लिए प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने, हॉस्टल एडमिशन प्रक्रिया को सेंट्रलाइज करने, डीयू में आयोजित होने वाली सभी परीक्षाओं का पूर्व शेड्यूल जारी करने , छात्रों से परीक्षा सुधार पर सलाह लेने , समय पर परीक्षा परिणाम घोषित करने , ऑनलाइन सर्टिफाइड मार्कशीट जारी करने तथा सभी सेमेस्टर की अलग-अलग प्रिंटेड मार्कशीट जारी करने , सप्लीमेंट्री परीक्षा शुरू करने तथा पुनर्मूल्यांकन परीक्षा परिणाम सेमेस्टर शुरू होने से पहले घोषित करने आदि पर अभाविप के नेतृत्व में जीतने वाला छात्र संघ करेगा।”

डूसू अध्यक्ष पद पर अभाविप से प्रत्याशी अक्षित दहिया ने कहा कि,” मैं स्पोर्ट्स का छात्र रहा हूं मुझे इस क्षेत्र से जुड़ी समस्याएं मालूम है , छात्रों को ना तो ठीक से डाइट मिलती है और सेमेस्टर के आखिरी में उन्हें एडमिट कार्ड के लिए परेशान होना पड़ता है। मैं स्पोर्ट्स छात्रों के लिए महत्वपूर्ण कार्य करूंगा। साथ ही साथ जो घोषणा पत्र आज जारी हुआ है, उसका हर बिंदु पर कार्यकाल में मैं पूरा हो सके इसलिए पहले दिन से इस पर कार्य करना शुरू कर दूंगा ।साथ ही एक रिस्पॉन्सिबल तथा स्टूडेंट फ्रेंडली डूसू को स्थापित किया जाएगा।”

डूसू उपाध्यक्ष पद पर प्रत्याशी प्रदीप तंवर ने कहा कि , ” डीयू के कॉलेजों के कैंपसों में विविधता है , मैं कॉलेज कैंपसों को ग्रीन कैंपस और क्लीन कैंपस बनाने के लिए कार्य करूंगा । साथ ही साथ मेरा फोकस रहेगा कि आउटर दिल्ली में जो कॉलेज हैं उनमें पढ़ने वाले छात्रों को नार्थ कैंपस और साउथ कैंपस के कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों के समान विभिन्न अवसर उपलब्ध हो सकें। “

सचिव पद पर प्रत्याशी योगित राठी ने कहा कि ” कैंपस में भारतीय विचार और मूल्यों का प्रसार करते हुए , डीयू के सिलेबस में भारतीय विचार शामिल हो और अभारतीयता दूर हो इसके लिए प्रयास करूंगा डीयू में वामपंथियों ने छात्रों को बहुत कुछ पढ़ने-लिखने से वंचित कर दिया है मैं प्रयास करूंगा कि छात्र सभी विचारों से परिचित हो सकें । राष्ट्रवाद के मुद्दे पर विशेष तौर से कार्य करेंगे।”

सह-सचिव पद पर अभाविप से प्रत्याशी शिवांगी खरवाल ने कहा कि,” हम पिछले वर्ष की तरह छात्राओं को प्रशिक्षण देने हेतु मिशन साहसी 2.0 लॉन्च करेंगे जिसमें हमारा लक्ष्य रहेगा की डीयू की 20000 छात्राओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जा सके। सभी महिला छात्रावासों/कॉलेजों के बाहर महिला पुलिस बूथ स्थापित करने, गर्ल्स एक्टिविटी सेंटर बनाने , पुलिस पेट्रोलिंग कॉलेजों तथा गर्ल्स हॉस्टलों के बाहर बढ़ाने, परमानेंट छात्रसंघ कार्यालय बनाने  , इंटरनल कंप्लेन कमेटी को और मजबूत करने, सीसीटीवी कैमरा लगाने तथा स्पोर्ट्स और ईसीए में छात्राओं के लिए फीमेल ट्रेनर आदि बिंदुओं पर काम करुंगी‌। साथ ही मेरा प्रयास रहेगा कि सभी जगहों पर महिलाओं को बराबरी का हक मिल सके‌। “

प्रेस वार्ता में राष्ट्रीय मीडिया संयोजक मोनिका चौधरी, प्रदेश मंत्री सिद्धार्थ यादव, अभाविप से अध्यक्ष पद प्रत्याशी अक्षित दहिया , उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी प्रदीप तंवर, सचिव पद पर प्रत्याशियों योगित राठी तथा सह सचिव पद पर प्रत्याशी शिवांगी खरवाल उपस्थित रहे‌।