दिल्ली के राजा’’ नें भूमि पूजन पर आपसी भाईचारा और देश भक्ति का संदेह दिया

  |    August 15th, 2018   |   0

नई दिल्ली(संवाददाता)-‘दिल्ली के राजा’’ श्री गणपति महाराज के नाम से विश्व विख्यात श्री गणेष उत्सव के पावन पर्व पर भव्य आयोजन बड़ीधूमधाम से हुआ जिसमें देश में एकता और अखंडता बनाए रखने की शपथ भी ली गई। पूरा माहौल दिल्ली के राजा की भक्ति के लीन के साथ-साथ देशभक्ति में भी छाया रहा दिल्ली के राजा आयोजन समिति नें रमेश नगर गणेश उत्सव स्थल पर भूमि पूजन का कार्यक्रम आयोजन किया। जिसमे उत्तरी दिल्ली के मेयर आदेश गुप्ता, उत्तरी दिल्ली नगर निगम स्टैंडिंग समिति की अध्यक्षा एवं रमेश नगर निगम पार्षद वीणा विरमानी, मुख्य संरक्षक रमेशआहूजा, सुभाष सचदेवा, आस्था वेलफेयर सोसाइटी के गुलशन विरमानी, राजेश आहूजा, दिल्ली के राजा आयोजन समिति महामंत्री श्री राजन चड्ढा,सदस्य  हर्ष बंधू, कोषाध्यक्ष श्री दीपक भारद्वाज, उपाध्यक्ष सरदार सरबजीत सिंह, उपाध्यक्ष कमल पाहुजा, समाज सेवक रमेश पोपली,अमृतवाणी सेवा के धर्मवीर आनंद, समाज सेवक वीरेंदर बब्बर, समाज सेवक संदीप भरद्वाज, मोती नगर विकास मंच के सोनू सचदेवा, मोती नगरनिगम पार्षद विपिन मल्होत्रा, समाज सेवक भारत मदान ने विशेष सहयोग दिया । यह गणेश उत्सव श्री बाल गंगाधर तिलक के सन्देश को आगे बढ़ानेका एक प्रयास है।
इस अवसर पर उत्तरी दिल्ली नगर निगम स्टैंडिंग समिति की अध्यक्षा एवं रमेश नगर निगम पार्षद वीणा विरमानी ने कहा – ” दिल्ली का राजा नें आजदेश भक्ति और आपसी भाईचारा का सन्देश अपने मंच से दिया।”
दिल्ली का राजा आयोजन समिति के महामंत्री श्री राजन चड्ढा ने कहा, ’’धरती का श्रृंगार वृक्ष लगायें बार-बार, गौ सेवा एवं सुरक्षा ही हमारे जीवन कोकरेगी साकार।’’
दिल्ली का राजा उत्सव आयोजन समिति के सदस्य श्री हर्ष बंधू ने बताया कि “19 वर्षों से श्री गणेश उत्सव में गणेश जी की भक्ति से जुड़े सभी धर्म केलोग आपस में मिलजुल कर आपसी भाई-चारे एवं श्रद्धा के साथ बड़ी धूम धाम से इस उत्सव को मनाते है।”
दिल्ली के राजा आयोजन समिति के कोषाध्यक्ष दीपक भारद्वाज ने कहा कि “इस उत्सव में बहुत सारे लोग दिल्ली एनसीआर के अलावा अन्यराज्यों से भी आते हैं। जहा पिछले वर्ष दस दिवसीय इस उत्सव में पांच लाख लोग आये थे वही इस वर्ष पांच से साढ़े पांच लाख लोगो के आने कीसंभावना है।”
आयोजन समिति के उपाध्यक्ष सरदार सरबजीत सिंह ने कहा कि इस आयोजन के जरिए समाज के सभी वर्ग के लोगों के बीच मेल मिलाप होगा औरसमाज में षांति तथा सदभाव कायम करने में मदद मिलेगी।
उत्सव समिति के उपाध्यक्ष श्री कमल पाहुजा ने बताया कि इस कार्यक्रम के माध्यम से हमारे एरिया की एक पहचान स्थापित हुई है आज ‘दिल्ली काराजा’ की दिल्ली में एक अलग सी पहचान बन चुकी है।
इस कार्यक्रम के दौरान अनेक धर्म गुरुओं एवं संतों का पदार्पण होगा जिनमें मुख्य तौर पर श्री कामाख्या शक्ति पीठ के महामंडलेश्वर श्री श्री 1008 अनंतविभूषित जगतगुरु पंचानंद गिरी जी महाराज, प्रयागराज पीठ के शंकराचार्य ओंकारानंद सरस्वती जी महाराज, विश्व विख्यात गुरुदेव जी डी वशिष्ठ जीएवं परम श्रद्धा श्री सच्चिदानंद जी महाराज के वचनों से कार्यक्रम का आयोजन हो गा । इन सभी संतो व कर्मकांडी ब्राह्मण आचार्य मुरलीधर शर्मा जीएवं अन्य विद्वान आचार्य द्वारा पूजन यज्ञ सहस्त्रार्चन आरती एवं श्रृंगार, पूजा सम्पन्न हो गई।