सिएट यूटेटे : दूसरे सीजन का आगाज गुरुवार से, कप्तानों को कड़ी प्रतिस्पर्धा की उम्मीद

  |    June 13th, 2018   |   0

पुणे(खेल डेस्क)- सिएट यूटेटे पावर्ड बाई केलॉग्स के सीजन-2 का गुरुवार को आगाज होगा और इस साल इसमें हिस्सा ले रही सभी छह फ्रेंजाइटी टीमों के कप्तानों ने कड़ी प्रतिस्पर्धा की उम्मीद जताई है। दूसरे सीजन के उद्घाटन मुकाबले में महाराष्ट्र युनाइटेड का सामना मौजूदा चैम्पियन फाल्कंस टीटीसी से होगा। अचंता शरत कमल (वॉरियर्स टीटीसी), गनासेकरन साथियान (डबंग स्मैशर्स टीटीसी), लियाम पिचफोर्ड (फाल्कंस टीटीसी), साइमन गौझी (एमपावर्जी चैलेंजर्स), हरमीत देसाई (आरपी-एसजी मावेरिक्स) और जोआओ मोंटीरो (महाराष्ट्र युनाइटेड) ने यहां ट्रॉफी का अनावरण करते हुए कहा कि इस टूर्नामेंट से भारतीय खिलाड़ियों को तो फायदा हुआ ही है, विदेशी खिलाड़ियों ने भी काफी कुछ सीखा है। फ्रांस निवासी वर्ल्ड नम्बर-12 गौझी पहली बार इस टूर्नामेंट में खेल रहे हैं और इस साल कप्तान भी हैं।

वह विश्व के श्रेष्ठ खिलाड़ियों के साथ होने वाले मुकाबलों को लेकर काफी उत्साहित हैं। गौझी ने कहा, ‘‘बीते सीजन को मैंने फेसबुक पर देखा था। इस लीग में खेलने वाले हर एक खिलाड़ी ने इसकी तारीफ की है। हर कोई इसमें प्रतिस्पर्धा के स्तर से खुश है। मैं यहां आकर बेहद खुश हूं।’’

पहले सीजन के मोस्ट वैल्यूएबल प्लेअर पिचफोर्ड इस साल फाल्कंस के कप्तान हैं और वह मानते हैं कि यह टूर्नामेंट भारतीयों के साथ-साथ विदेशी खिलाड़ियों के लिए भी फायदेमंद रहा है। पिचफोर्ड ने कहा, ‘‘बीते सीजन में मैंने दबाव से खुद को निकालना सीखा। इससे मुझे वर्ल्ड टूर के दौरान फायदा हुआ। इस लिहाज से सिएट यूटेटे न सिर्फ भारतीयों को निखार रहा है बल्कि यह विदेशी खिलाड़ियों को भी काफी कुछ दे रहा है।’’

सिएट यूटेटे के दूसरे सीजन में भारत की स्टार मानिका बत्रा, मौमा दास, मधुरिका पाटकर, शरत कमल, एंथोनी अमलराज, साथियान गणासेकरन, हरमीत देसाई, सानिल शेट्टी, पूजा सहस्रबुद्धे और सुतिर्था मुखर्जी हिस्सा ले रहे हैं। इन खिलाड़ियों ने आस्टेÑलिया के गोल्ड कोस्ट में अप्रैल में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में तीन स्वर्ण सहित कुल आठ पदक जीते थे।
फ्रांस के साइमन गौझे (वर्ल्ड नम्बर-12) और हांगकांग के डू होई केम (वर्ल्ड नम्बर-13) छह टीमों की इस लीग में टॉप रैंक वाले विदेशी खिलाड़ी हैं। इस लीग में हिस्सा लेने वाली छह टीमें इमपावर्जी चैलेंजर्स, दबंग स्मैशर्स टीटीसी, फाल्कंस टीटीसी, महाराष्ट्र युनाइटेड, आरपी-एसजी मावेरिक्स और वॉरियर्स टीटीसी हैं।
लीग के दूसरे सीजन में 19 देशों के खिलाड़ी शिरकत कर रहे हैं। इनमें 24 ओलम्पिक खेल चुके हैं, 19 राष्ट्रीय चैम्पियन हैं और 17 ऐसे खिलाड़ी हैं, जो अपने-अपने देश में नम्बर-1 खिलाड़ी रहे हैं।
इस साल इस लीग के लिए तीन करोड़ रुपये की पुरस्कार राशि रखी गई है। प्रतियोगिता कुल 18 दिनों तक चलेगी। विजेता टीम को एक करोड़ रुपये का पुरस्कार मिलेगा जबकि उपविजेता को 75 लाख रुपये मिलेंगे। सेमीफाइनल में हारने वाली टीमों को 50-50 लाख रुपये मिलेंगे।
लीग चरण की अवधि 15 दिनों की है और इस दौरान हर टीम पुणे, दिल्ली और कोलकाता में एक दूसरे के साथ खेलेगी। कोलकाता में तीन लीग मैच होने हैं। इसके अलावा यहां सेमीफाइनल और फाइनल होगा। फाइनल मुकाबला एक जुलाई को खेला जाएगा।
आठ बार के नेशनल चैम्पियन और सिएट यूटेटे का आयोजन कराने वाली कम्पनी 11स्पोर्ट्स के निदेशक कमलेश मेहता मानते हैं कि इसका काम्पैक्ट फारमेट इसे काफी रोचक और लोकप्रिय बनाएगा। पहले यह नाइन मैच टाई था लेकिन अब इसे सेवन मैच टाई कर दिया गया है। मेहता ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘नया फारमेट खिलाड़ियों को अनुभव हासिल करने के अधिक से अधिक मौका प्रदान करेगा।’’
टेबल टेनिस फेडरेशन आॅफ इंडिया के सीनियर वाइस प्रेसिडंट राजीव बोडास ने संकेत दिए हैं कि सिएट यूटेटे के आने के बाद से इस खेल में लोगों की भी रुचि काफी बढ़ी है। उन्होंने कहा, ‘‘पुणे में आयोजित होने वाला एक स्टेट लेवल टूर्नामेंट, जिसमें हर साल 200 से 300 इंट्रीज आती थीं, इस साल 600 से अधिक इंट्री आई है। इससे जाहिर है कि टेबल टेनिस को लेकर लोगों के बीच नजरिया बदला है।’’
लीग के दूसरे सीजन के सभी मैच भारतीय समयानुसार शाम सात बजे से शुरू होंगे और इनका लाइव प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स सेलेक्ट 1 एचडी, हॉटस्टार और जियो टीवी पर होगा।